तुमसे ही ……………………….

तुमसे ही मैं हूँ,
मुझसे ही तुम हो,
एक दूजे के बिन,
दोनों हैं ,
जैसे किसी अनजानी दुनिया में,
कहीं गुम हो,
तुमसे ही ……………………….
बजते हैं दिल में,
प्यार के तार,
मेरे मन पर है,
तेरी ही सरकार,
तेरे प्यार में,
बहकता हूँ कुछ ऐसे,
जैसे लगी कोई धुन हो,
तुमसे ही ……………………..
धड़कता है दिल,
तेरी वजह से,
उड़ने लगा है मन,
तेरी शह से,
ऐसा लगता है मुझे,
जैसे दिल में मेरे,
तेरा खून हो,
तुमसे ही ………………………..

तन मेरा …………………..

तन मेरा,
तू परछाई है,
कुछ इस तरह,
तू मुझ में समायी है,
तू बातों में,
तू यादों में,
तू हरदम है,
मेरे साथ,
मुझे गवांया है,
मैंने खुद से ही,
बस तेरी मोहब्बत,
कमाई है,
तन मेरा ……………………….
खोया रहता हूँ,
प्यार में तेरे,
सुबह-ओ-शाम,
नैंनों में तेरे,
डूब गया हूँ,
कर दिया हे मैंने,
खुद को तेरे नाम,
साथ ही धड़कन भी,
गवांयी है,
तन मेरा ………………………..

जो तू ……………………

जो तू हर गम को,
यूं छुपाती रही,
आंखे तेरी मुझे,
सब बताती रही,
तू मेरे दिल के,
है इतने करीब,
तेरी आह,
मुझे भी रुलाती रही,
जो तू …………………………….
मन में बोझ लेकर भी,
मेरे सामने,
तू हँसती रही,
मुझसे दूर होते ही,
आंखे तेरी बरसती रही,
अंदर ही अंदर,
तेरी घुटन,
हर पल मुझे,
सताती रही,
जो तू …………………………….
तु न अब कर,
मुझ पर यूं सितम,
तू बना ले मुझे,
शरीक-ए-गम,
तुझे यूं देख कर,
मेरी रूह हलक में,
अटकती रही,
जो तू …………………………….

तुमसे ………………………….

तुमसे सच्चे प्यार की,
गवाही क्या दूं,
खड़ा हूं मुवक्किल की तरह,
तेरे दिल की अदालत में,
बना ले कैदी,
तुमसे रिहाई,
मैं क्या लूं,
तुमसे ……………………………..
दे दे उम्र-कैद,
मुझे दिल में तेरे,
मुझ पर जो,
तुमसे इश्क़ का,
इल्ज़ाम लगा है,
उस पर,
सफाई क्या दूं,
तुमसे ………………………….
रहूंगा हमेशा,
तेरी निगरानी में,
साथ दूंगा तेरा,
हर परेशानी में,
इस से ज्यादा ओर,
मोहब्बत की दुहाई क्या दूं,
तुमसे …………………………..

hits counter