चले गये …….

चले गए वो तो,
अब क्यों आये हो,
तुम कहने को ही,
हो अपने,
यूं तो पराये हो,
जब मुश्किल थी,
तब साथ,
न दिया किसी ने,
न ली किसी ने खबर,
हालात हो गए थे,
जब ज़िन्दगी के,
बद से बदतर,
तब थे कहां,
अब क्या यहां,
मुंह दिखाने आये हो,
चले गये वो तो ……………………
पहले नहीं था,
ज्यादा पता मुझे,
जमाने के बारे में,
तुम ही मुझे,
दुनिया का सही रूप,
दिखाये हो,
चले गये वो तो ……………………

पंछी ………………..

पंछी किसी वतन के नहीं होते,
ये पूरी दुनिया के होते हैं,
पंछी किसी चमन के नहीं होते,
ये पूरे गगन के होते हैं,
पंछियों की उड़ान से,
ये जहाँ लगता हे न्यारा,
हर रिश्ता भी,
लगता है प्यारा,
पंछी ……………………………
पंछी प्यार का पैगाम देते हैं,
ये हर दिल को सुकून का,
एहसास देते हैं,
पंछी सरहदों से परे होते हैं,
ये हर दुःख से दूर होते हैं,
पंछी …………………………..
पंछी जहाँ भी जाते हैं,
वहां प्यार भर देते हैं,
पंछी अपनी चहचहाट से,
हर शोर दूर कर देते हैं,
पंछी किसी पर सितम नहीं करते,
ये हर किसी से प्यार का,
सलाम करते हैं,
पंछी ………………………………
पंछी किसी डर से,
बंधे नहीं होते,
ये मदमस्त उड़ते हैं,
पंछी जब गाते हैं,
तो मन मचल जाता है,
हर दिल में,
कमल खिल उठता है,
पंछी हर जंग से,
दूर होते हैं,
ये अमन की रौशनी होते हैं,
पंछी …………………………….

तुम को ………….

तुम को जान लिया मैंने,
दिल ही दिल में तुम को,
अपना मान लिया मैंने,
प्यार में तेरे,
बहकता हूं मैं,
क्योंकि तेरे नैनों का,
जाम पी लिया मैंने,
तुम को ………………….
जब से तुम को देखा है,
खुद को मैं,
भूल गया हूं,
मैं तेरे शबाब में,
डूब गया हूं,
खुद के दिल पर,
तेरा नाम लिखा मैंने,
तुम को ………………..
तेरी यादों में,
शब में भी,
नींद नहीं है,
तेरे सिवा जिंदगी में,
कुछ भी नहीं हैं,
बस तू ही,
मेरी जिंदगी है,
ये बात मान,
ली है मैंने,
तुम को …………………….

सुन लो तुम ……….

सुन लो तुम,
मेरे दिल की आवाज़,
बज रहे हैं,
दिल में मेरे,
तेरे प्यार के साज़,
ज़िन्दगी में बस,
तेरी ही थी कमी,
तेरे बिन मेरी,
आंखो में थी नमी,
आज तुम बन गयी हो,
मेरी जिंदगी की सरताज,
सुन लो तुम ……………..
मैं बस तुमसे ही,
प्यार करता हूं,
दिल-ओ-जान तुम्हीं पर,
निसार करता हूं,
किसी बहाने से ही सही,
पास आ जाओ,
तुम मेरे आज,
सुन लो तुम ……………….
मैं देखता हूं रातों में,
सिर्फ तेरे ही ख्वाब,
तुम हो मेरी बेगम,
मैं हूं तेरा नवाब,
मुझे तेरी याद के अलावा,
ना कोई काम है,
न कोई काज,
सुन लो तुम ……………………
अन्दाज तुम्हारा,
है सबसे जुदा,
सबसे अलग है,
तेरी हर खता,
मेरे दिल का हाल,
पता हे मुझे,
तेरे दिल का हाल भी,
है मुझे पता,
मुझे पसंद आता है,
तेरा हर अंदाज,
सु़न लो तुम …………………..

hits counter