शहरों में ……………………..

शहरों में,
इंडिया देखता है तू,
कुछ वक़्त निकाल कर,
गांवों में हिन्दुस्तान भी,
देख ले,
आसमान की सैर तो,
बहुत की तुने,
कुछ पल निकाल कर,
गांवो के खलिहान भी,
देख ले,
शहरों में ………………………..
मर रही हे फसलें,
सूखे से,
मर रहा है,
किसान भी,
कभी पग-डंडी पर,
चल कर उस के,
मकान भी देख ले,
शहरों में ………………………..
शोपिंग मॉल्स में घूमता है,
आज कल तू,
कभी नुक्कड़ पर जाकर,
एक बेबस की,
दुकान भी देख ले,
शहरों में ………………………..

hits counter